Sidhu Moose Wala: पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या, शनिवार को ही मान सरकार ने घटाई थी सुरक्षा

नई दिल्ली न्यूज़ भारत

पंजाब के मानसा जिले में दिनदहाड़े पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या कर दी गई। वारदात को गांव जवाहरके के पास अंजाम दिया गया है। मूसेवाला की मौत से पंजाब में सनसनी फैल गई है।

मूसेवाला के दो साथी घायल हैं। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। पंजाब की भगवंत मान सरकार ने शनिवार को ही सिद्धू मूसेवाला की सुरक्षा को हटाया था।

बताया जा रहा है कि पहले गायक के पास करीब 10 गनमैन थे लेकिन मान सरकार ने इनकी संख्या कम कर दी थी। काले रंग की गाड़ी में सवार दो हत्यारों ने वारदात को अंजाम दिया है। मूसेवाला ने कांग्रेस की टिकट पर इसी साल मानसा से विधानसभा का चुनाव लड़ा था।

63323 वोट से हारे थे मूसेवाला
मूसेवाला ने पंजाब के मानसा से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ा था। हालांकि इस चुनाव में उन्हे करारी हार का सामना करना पड़ा था। आम आदमी पार्टी के डॉ. विजय सिंगला ने मूसेवाला को 63323 वोटों से करारी शिकस्त दी थी। 2021 में चुनाव से ठीक पहले मूसेवाला ने कांग्रेस ज्वाइन की थी। इस दौरान कांग्रेस के पूर्व प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू ने उन्हे यूथ आइकन बताया था।

सुरक्षा वापस लेने पर घिरे मुख्यमंत्री मान
सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद राजनीतिक दलों ने मुख्यमंत्री भगवंत मान को निशाने पर ले लिया है। एक के बाद एक मान जिस तरह से सुरक्षा वापस ले रहे हैं, उससे उन पर सवाल उठने लगे हैं। शिरोमणि अकाली दल (अ) के राजिंद्र सिंह जवाहरके व कुछ कांग्रेस नेताओं ने बताया कि अगर मूसेवाला की सुरक्षा वापस न ली जाती तो वो ऐसे हमले का शिकार ना होते।

उन्होंने कहा कि हमलावरों ने सुरक्षा वापस लेते ही सिद्धू मूसेवाला को मौत के घाट उतार दिया। शिरोमणि अकाली दल (अ) के अध्यक्ष सिमरजीत सिंह मान ने कहा कि पहले योजना के जरिये दीप सिद्धू का कत्ल करवाया गया और अब नौजवान गायक सिद्धू मूसेवाला की जान ले ली गई है। इसका पंजाब सरकार को जवाब देना होगा।

मुख्यमंत्री ने की शांति की अपील
मूसेवाला की सरेआम हत्या के बाद सूबे में आक्रोश की आशंका के चलते मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पंजाबियों से शांति बनाए रखने की अपील की है। इस हमले को जिसने भी अंजाम दिया है, उसे बख्शा नहीं जाएगा। नौजवान गायक की हत्या का उन्हें दुख है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.