LPG Cylinder Price: फरवरी महीने के लिए रसोई गैस सिलेंडर की कीमत हुई जारी, जानें नए दाम

स्वास्थ्य और सौन्दर्य

ज्योतिष वृहत विषय है। यह जीवन के प्रत्येक पक्ष पर असरदायी होता है। खानपान कैसा हो यह भी ज्योतिष से समझा जा सकता है। ऐसे व्यक्ति जिनकी कुंडली में बुध ग्रह की प्रधानता है। उन्हें हरी सब्जियों तथा फलों को प्रधानता देनी चाहिए। शुक्र का असर ज्यादा होने पर ऐसे व्यक्ति को डेयरी प्रॉडक्ट को खाने में समिल्लित करने की कोशिश करना चाहिए। खट्ठे, मीठे एवं रसीले पदार्थ भी स्वास्थ्यकर रहते हैं।

गुरु प्रधान शख्स को पीले पदार्थों को प्राथमिकता देना चाहिए। फलों का उपयोग ज्यादा करना चाहिए। सूखे मेवों को भिगोकर इस्तेमाल में लाना चाहिएं। शक्कर की तुलना में अन्य मीठे पदार्थों का चयन करना चाहिए।

शनि प्रधान व्यक्तियों को काले एवं हरे पदार्थों का चयन करना चाहिए। तिल, उड़द और हरी सब्जियां खाना उत्तम होगा। तिलहन का इस्तेमाल भी शनि प्रधान व्यक्ति ज्यादा करते हैं।

सूर्य एवं मंगल प्रधान व्यक्तियों को अधिक देर पकाए जाने वाले पदार्थ प्रिय होते हैं। भूमि के भीतर के कंद-मूल भाते हैं। सूखे मेवे प्रिय होते हैं। लाल रंग पदार्थों का चयन भी श्रेयष्कर है। चंद्रमा की श्रेष्ठता रसीले पदार्थों के प्रति प्रियता बढ़ाती है। ऐसे जातक चावल से बने पकवानों को पसंद करते हैं। जल की ज्यादा मात्रा वाले फल सब्जी को पसंद करते हैं। इन्हे सूखा खाना अरुचिकर लगता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.