CORONAVIRUS: महामारी नही ,जीवन है सबका

COVID-19 Coronavirus

कोरोना वायरस का नाम सुनते ही बहुत ज़्यादा डर लगने लगता है न ? और क्यो न लगे , डर सबको लगता है। यह बिमारी सुनने में डरावनी हैं , उतने ही इसके घातक परिणाम धीरे-धीरे सामने आते जा रहे है। यह बिमारी केवल मनुष्य द्धारा , मनुष्य को ही मारने के लिए बनाई गई हैं।आप सब को यह जानकर बहुत हैरानी होगी कि  यह बिमारी चाईना द्धारा अपनी गरीब जनता को मारने के लिए बनाई गई थी। परन्तु , यह बिमारी ने किसी का बात न मानते हुए सबको अपनी चपेट में ले लिया हैं। यह वायरस किसी को नही देखता है, चाहे वह अमीर हो या गरीब या फिर वह कोई हिन्दू हो , मुस्लिम हो , या किसी और धर्म जाति को ही क्यो न हो ।

इस वायरस के परिणाम तो अब तक सबको ही पता लग चुके होंगें। इसलिए भारत सरकार द्धारा जो भी कानून बनाए गए है । आप सब उस का पालन करो व सुरक्षित रहो। भारत सरकार का सहयोग डाक्टर , मेडिकल स्टाफ , एंबुलेंस के अधिकारी, मिडिया कर्मचारी के साथ साथ पुलिस भी दे रही है । इसलिए आप सब बहुत जरूरी काम हो तो ही बहार मास्क डालकर जाए ।


कहते है कि , बुरा वक्त आता है तो , अच्छा वक्त भी जल्दी आता है । बस बात है उस हौसले की जो हम सबको बरकरार रखना पड़ेगा । परन्तु , यह बुरा वक्त भी बहुत कुछ अच्छा सिखा रहा है जेैसे की आज भारत की नदियाँ , हवा और यहां तक की नले भी कुछ  परजेंट साफ हो चुके है । नदियों का पानी कल कल करता अपनी धुन में ही प्रकृति से बाते करने लगा है । हवाएं ऐसे बहती हैं जैसे मानो कानों में कुछ कहना चाहती हो । पशु – पक्षी आज अपने ही धुन में मगन घुम रहे हो ।

हक माँगना सबका अधिकार है , परन्तु मनुष्य इतना कठोर हो गया कि वह प्रकृति को उसका अधिकार देना भुल गया । इसलिए इस मुश्किल घड़ी में हम सबको एक दुसरे का साथ देना है ।

घर में रहे सुरक्षित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.