हाथरस केस: पीड़िता के भाई की मांग, ‘DM का लिया जाए इस्तीफा, हमें दो दिनों तक रखा घर में बंद’

न्यूज़

हाथरस में 19 साल की युवती के साथ कथित गैंगरेप मामले पर अब मृतक पीड़िता के भाइयों ने जिला मजिस्ट्रेट (DM) के इस्तीफे की मांग की है। न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए उन्होंने रात में पीड़िता का अंतिम संस्कार किए जाने पर सवाल उठाया। साथ ही उन्होंने कहा कि ”हमारे परिवार को पिछले दो दिनों से घर में बंद करके रखा गया। डीएम ने परिजनों पर दबाव डाला था।” बता दें, 14 सितम्बर को हाथरस में चार युवकों ने 19 वर्षीय लड़की से कथित तौर पर सामूहिक रेप किया था और मंगलवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उसकी मौत हो गई थी। जिसके बाद बुधवार की रात को उसके शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया था।

DM ने हम पर दबाव डाला- परिवार

पीड़िता के भाई ने कहा, “हमने उनसे कई सवाल पूछे हैं। रात में हमारी बहन के शरीर का अंतिम संस्कार किया गया था। हमें जवाब चाहिए। अस्पताल से शव मिलने के बाद हमें इसकी सूचना क्यों नहीं दी गई? उनका कहना है कि हमने विरोध किया, लेकिन अगर हमने विरोध नहीं किया होता तो हमें न्याय नहीं मिलता। आप देख सकते हैं कि डीएम ने हमारे साथ कितना बुरा बर्ताव किया है, हमारी आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है।”

जब उनसे पूछा गया कि क्या परिवार SIT जांच से संतुष्ट है, तो उन्होंने कहा, “हम दो दिनों से घरों के अंदर बंद थे। डीएम ने हम पर दबाव डाला और हमें धमकी दी। हम डीएम के इस्तीफे की भी मांग करते हैं।”

पीड़िता के परिजनों से मिले राहुल-प्रियंका

इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने हाथरस पहुंचकर पीड़िता के परिवारवालों से मुलाकात की। इस दौरान राहुल-प्रियंका ने बंद कमरे में पीड़िता के परिवार से एक घंटे तक बात की और उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिया।

मुलाकात के बाद प्रियंका गांधी और राहुल गांधी ने मीडिया से बात की। इस दौरान प्रियंका ने कहा कि ‘ना वो हमें रोक सकेगें ना हम रुकेंगे। जहां-जहां ये अन्याय होगा हम वहां-वहां पहुंचेंगे।’

‘CBI करेगी मामले की जांच’

वहीं अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस मामले की जांच केंद्रीय जांच एजेंसी CBI से कराए जाने की सिफारिश की है। सीएमओ ऑफिस के ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा गया है कि, ‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सम्पूर्ण हाथरस प्रकरण की जांच सीबीआई से कराए जाने के आदेश दिए हैं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.