हर घर तिरंगा अभियान : भारतीय डाक विभाग ने बनाया कीर्तिमान, महज 10 दिन में बेचे 1 करोड़ से ज्यादा तिरंगे

नई दिल्ली न्यूज़ भारत

‘हर घर तिरंगा’ अभियान को सफल बनाने के उद्देश्य से देशभर के 1.55 लाख डाकघरों ने बड़ा योगदान दिया है। इस क्रम में भारतीय डाकघरों ने बीते 10 दिनों में 1 करोड़ से अधिक राष्ट्रीय ध्वज बेचे हैं। भारतीय डाक विभाग में 25 रुपए की दर पर राष्ट्रीय ध्वज की बिक्री की जा रही है।

केंद्र के प्रयासों से सफल हुई योजना

‘ऐसे में कहना उचित होगा कि ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के मौके पर शुरू किया गया ”हर घर तिरंगा” अभियान सफल बनाने में भारतीय डाक विभाग और केंद्र सरकार की डाकघरों के जरिए मामूली कीमत पर तिरंगा बेचने की योजना सफल सिद्ध हुई है। ‘

देश में 1.55 लाख डाकघरों का विशाल नेटवर्क

इंडिया पोस्ट की ओर से उपलब्ध कराई गई जानकारी के मुताबिक पूरे देश में 1.55 लाख डाकघरों के विशाल नेटवर्क के जरिए भारतीय डाक विभाग हर घर तिरंगा अभियान को सफल करने की कोशिश में जुटा हुआ है।’

डाकघरों में कैसे की जा रही है तिरंगे की बिक्री ?

देश के तमाम डाकघरों में राष्ट्रीय ध्वज काउंटर से बेचा जा रहा है। इसके साथ ही ई-पोस्टऑफिस पोर्टल के जरिये ऑनलाइन भी राष्ट्रीय ध्वज की बिक्री की जा रही है। 20 इंच लंबे और 30 इंच चौड़े भारतीय राष्ट्रीय ध्वज की बिक्री डाकघरों में सिर्फ 25 रुपये की कीमत पर की जा रही है। राष्ट्रीय ध्वज की बिक्री को जीएसटी से मुक्त रखा गया है।

1.75 लाख से अधिक राष्ट्रीय ध्वज की हो चुकी ऑनलाइन बिक्री

भारतीय डाक विभाग के ई-पोस्टऑफिस पोर्टल के जरिए अभी तक 1.75 लाख से अधिक राष्ट्रीय ध्वज की ऑनलाइन बिक्री की जा चुकी है। डाक विभाग पूरे देश में किसी भी पते पर बिना किसी डिलीवरी चार्ज के राष्ट्रीय ध्वज पहुंचा रहा है।

अभियान सफल बनाने के लिए सवा चार लाख कर्मचारी देश भर में एक्टिव

हर घर तिरंगा अभियान को सफल बनाने के लिए डाक विभाग के करीब सवा चार लाख कर्मचारी पूरे देश के शहरों, गांवों और कस्बों में लगातार जुटे हुए हैं। अभियान को सफल बनाने के लिए इस सप्ताह रविवार की छुट्टी के दिन भी डाक कर्मचारी लगातार काम करते रहेंगे। हर घर तिरंगा अभियान को सफल बनाने के लिए भारतीय डाक विभाग चौपाल सभा, प्रभात फेरी और बाइक रैली के जरिए भी प्रचार कर रहा है। इसके साथ ही भारतीय डाक विभाग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के जरिए भी हर घर तिरंगा अभियान के संदेश को प्रचारित करने में जुटा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.