सहारा बैंक मऊगंज की जमाकर्ताओं के साथ ठगी का मामला मऊगंज थाना पहुंचा

न्यूज़

हजारों जमाकर्ताओं के दो तीन वर्षों से रुपये दबाकर बैठा सहारा बैंक

कई लोग बेटी के विवाह के लिए जमा कर रखा था रुपये गरीबों के सपनो में फेर दिया पानी

मऊगंज-सहारा बैंक जमाकर्ताओं के रुपये दबाने मऊगंज धोखाधड़ी व ठगी को लेकर डिपाजिट कर्ताओं की डिपाजिट अवधि पूर्ण होने के बाद धोखाधड़ी व ठगी करते हुए उनके रुपये बगैर सहमति के मनमानी करते हुए उसे पुनः डिपाजिट कर दिया। लोग अपनी जमा राशि को पाने लिए बैंक के चक्कर लगा रहे है जिन्हें ब्रांच मैनेजर एक माह से पांच माह आने का झटका देकर भटका रहे है।
निवर्तमान नगर परिषद उपाध्यक्ष अब्दुल कयूम सिद्दीकी ने कल थाना प्रभारी मऊगंज से शिकायत करते हुए कहा उनके परिवार जनों की जमा डिपाजिट जो 2020 में पूरी हो चुकी है उसको देने को लेकर ब्रांच मैनेजर द्वारा बहानेबाजी की जा रही है। 01 वर्ष बीतने को है ब्रांच मैनेजर द्वारा किस्तों में पैसे देने की बात कही जा रही है श्री सिद्दीकी का कहना है कि सहारा बैंक में अधिसंख्यक जमाकर्ता उसकी धोखाधड़ी के शिकार हैं।
जो आज भी ब्रांच में जाकर अपने ही जमा धन को पाने के लिए गिड़गिड़ा रहे हैं।

सहारा बैंक की आ रही शिकायत पर थाना प्रभारी मऊगंज विद्यवारिधि तिवारी ने जांच एवम कार्यवाही की बात कही है।

पूर्व में बैंक की धोखाधड़ी के खिलाफ मऊगंज थाना में शिकायत हुई थी दर्ज

बीते वर्ष सहारा बैंक के खिलाफ धोखाधड़ी व ठगी की जमाकर्ताओं द्वारा शिकायत दर्ज कराई गई थी जिसके बाद तत्कालीन थाना प्रभारी डी एस पी राजीव पाठक द्वारा बैंक के खिलाफ जांच कार्यवाही के बाद बैंक ने कानूनी शिकंजे में फंसता देख शिकायतकर्ताओं के रुपये लौटा कर समझौता कर लिया था।
लेकिन इसके बाद भी सहारा बैंक की धोखाधड़ी बन्द नही हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.