शिव वीडी के तेवरों से सत्ता संगठन की चाल हुई तेज –

न्यूज़ भारत मध्यप्रदेश न्यूज़

शिव वीडी के तेवरों से सत्ता संगठन की चाल हुई तेज –

भोपाल। 


इन दिनों मप्र की चार सीटों पर होने वाले उपचुनाव की तैयारियों को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा के तेवर तीखे बने हुए हैं। यही वजह है की उनके तेवरों को देखते हुए संगठन की चाल तेज हो चुकी है। सीएम द्वारा खंडवा लोकसभा और रैगांव, पृथ्वीपुर और जोबट विधानसभा में किए गए जनदर्शन और जनहित की घोषणाओं के बाद अब प्रदेश संगठन की टीम पूरी ताकत से इन चुनाव क्षेत्रों में उतर गई है। इसके लिए प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश महामंत्री भगवानदास सबनानी और संगठन की ओर से इन विधानसभा व लोकसभा सीट के लिए नियुक्त मंत्री व पदाधिकारी अब इन क्षेत्रों में जुट गए हैं।दस दिन में दो बार रैगांव में जनदर्शन कर चुके मुख्यमंत्री चौहान के बाद संगठन द्वारा यहां तैनात किए गए मंत्री, सांसद, विधायक और संगठन पदाधिकारी सीएम की घोषणाओं को स्थानीय जन तक पहुंचाने के लिए बूथ समितियों का सहारा ले रहे हैं। इसके लिए टोलियों और मंडलों की बैठकें ली जा रही हैं। इसका उदाहरण पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र है। इस इलाके में एक बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जनदर्शन के तहत दौरा कर चुके हैं, वे दूसरी बार जाते इसके पहले ही वहां प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा बूथ अध्यक्षों और पालक संयोजक व नगर ग्राम केंद्र अध्यक्ष व संयोजकों की बैठक लेने पहुंच चुके हैं। हैं। इस दौरान उनके द्वारा दिगौड़ा मंडल के ग्राम व नगर केंद्र के पालक संयोजक, मंडल क्षेत्र में रहने वाले पदाधिकारी, मोर्चा और प्रकोष्ठ अध्यक्ष, नगर पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, मंडी अध्यक्ष, जनपद अध्यक्ष, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य, जिला पंचायत सदस्यों की ताबड़तोड़ बैठकें की गई। वे यहीं नहीं रुके हैं, बल्कि आज भी इलाके के गांव-गांव जाकर बैठकें कर रहे हैं। भाजपा के राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश और प्रदेश प्रभारी पी.मुरलीधर राव की नसीहत के बाद नेताओं के दौरे बढ़ गए हैं। दरअसल बीते दिनों पार्टी की बैठक में सभी पदाधिकारियों को महीने में 15 दिन प्रवास करने के निर्देश दिए गए थे। इसकी वजह से प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा और संगठन महामंत्री सहित कई पदाधिकारी जिलों के दौरे पर हैं। प्रदेश भाजपा प्रभारी राव ने बैठक के दौरान एक महामंत्री को भी महीने में 15 दिन प्रवास की नसीहत दी थी। इसके बाद से ही अब प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा पिछले दो दिन से छतरपुर, पन्ना और कटनी जिले के दौरे के बाद अब निवाड़ी जिले के दौरे पर हैं, तो वहीं प्रदेश भाजपा संगठन महामंत्री सुहास भगत और सह संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा भी ग्वालियर-चंबल संभाग के दौरे पर है।प्रदेश भाजपा महामंत्री भगवानदास सबनानी को खंडवा, पंधाना और बुरहानपुर के दौरे पर गए हुए हैं, जबकि प्रदेश उपाध्यक्ष मुकेश चतुर्वेदी पन्ना और छतरपुर में सक्रियता दिखा रहे हैं। इसी तरह से पूर्व विधायक एवं प्रदेश उपाध्यक्ष जीतू जिराती भी खंडवा संसदीय क्षेत्र में घूम रहे हैं।
नाथ कल लेंगे उपचुनावी तैयारियों की रिपोर्ट
प्रदेश में होने वाले उपचुनाव में भले ही भाजपा अधिक सक्रिय नजर आ रही है , लेकिन इस मामले में कांग्रेस भी पीछे नहीं रहना चाहती है। यही वजह है कि कल मंगलवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ भी भोपाल आते ही उपचुनाव वाले सभी क्षेत्रों की विस्तृत रिपोर्ट लेने वाले हैं। इसी आधार पर कांग्रेस उपचुनाव वाले क्षेत्रों की रणनीति तैयार करेगी। इसके लिए सभी उपचुनाव के प्रभारियों को विस्तृत रिपोर्ट के साथ भोपाल बुलाया गया है। इस रिपोर्ट में क्षेत्र के समीकरण से लेकर यहां पर कांग्रेस के सक्रिय और प्रभावी नेताओं की जानकारी भी शामिल है। इस रिपोर्ट के बाद कमलनाथ इन क्षेत्रों के सक्रिय और प्रभारी नेताओं की भी अलग-अलग बैठक कर नेताओं को उपचुनाव से संबंधित महत्वपूर्ण जिम्मेदारी भी दे सकते हैं। यही नहीं अगले माह से कमलनाथ के दौरे कार्यक्रम भी तय किए जा रहे हैं। इस दौरान उनकी उपचुनाव वाले इलाकों में एक एक सभा की तैयारी की जा रही है।
उपचुनाव वाले विधानसभा और लोकसभा क्षेत्रों के विकास कार्य कराने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा की गई घोषणाओं की फाइलों को इन दिनों पंख लग गए हैं। बीते एक सप्ताह से इसी तरह के कुछ हालात दिख रहे हैं। दरअसल मुख्यमंत्री द्वारा उपचुनावों वाले इलाकों में अपने सात दौरों के दौरान लगभग सत्तर घोषणाएं की गई हैं।  मुख्यमंत्री सचिवालय हर घोषणा की रिपोर्ट विभागों से हर दिन मांग रहा है। जनदर्शन के दौरान सीएम चौहान ने पृथ्वीपुर में पीएचई, जल संसाधन विभाग के साथ खाद्य और नागरिक आपूर्ति, बिजली, राजस्व समेत अन्य विभागों से संबंधित घोषणाएं की थीं। इसी तरह जोबट और खंडवा लोकसभा सीट के जनदर्शन के दौरान सीएम ने नई तहसील , उप तहसीलों के साथ पेयजल और सिंचाई के लिए बांधों और तालाबों के निर्माण की भी घोषणाएं की थीं। इसी तरह से अलीराजपुर जिले के जोबट विधानसभा के लिए भी दर्जन भर घोषणाएं की हैं। मंत्रालय और सचिवालय में पदस्थ अफसर उपचुनाव वाले इन क्षेत्रों में की जाने वाली घोषणाओं का पूरा लेखा जोखा रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.