शंकरगढ़ क्षेत्र में भारी जलावृष्टि से जगह जगह जलजमाव, आवागमन ठप

न्यूज़ भारत

शंकरगढ़ : क्षेत्र में लगातार हो रही भारी बारिश के कारण नारीबारी मार्ग की कल्यानपुर पुलिया के डूब जाने के कारण आवागमन बाधित रहा।
शंकरगढ़ से नारीबारी मार्ग के निर्माण में सरकार द्वारा करोड़ों रूपये खर्च करने के बाद भी कल्यानपुर गांव के रपटा पर पुल नही बनाया जा सका। रपटानुमा पुलिया होने के कारण भारी बारिश हो जाने पर पुलिया पानी में डूब जाया करती है। जिससे नारीबारी मार्ग का आवागमन पूरी तरह से ठप हो जाया करता है। शुक्रवार की रात से क्षेत्र में भारी जलावृष्टि होने के कारण कल्यानपुर पुलिया के ऊपर से पानी बहने के कारण नारीबारी मार्ग पर आने जाने वाले लोग दोनो तरफ खड़े होकर पानी कम होेने का इंतजार करते रहे। दूसरी पहर पानी जब कम हुआ तब ग्रामीण अपने अपने गन्तव्य स्थान को जा सके।
इसी तरह नगर पंचायत के रामसागर तालाब मुहल्ले में मो.गुलाब के घर से होते हुए उदयभान सिंह के घर तक रामसागर तालाब नलकूप को जाने वाली सड़क में जगह जगह बड़े बड़े तलाबनुमा गडढों में पानी भर जाने के कारण लोग अपने अपने घरों में कैद रहे। लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है। मुहल्ले वासियों में सुरेन्द्र सिंह, आदित्य आनंद, जुल्फार अहमद, मो. नसीम, रवि साहू, उर्मिला देवी, रोहित सिंह, लाला माली, गीता वर्मा, नारेन्द्र सिंह आदि ने बताया कि वह कई बार नगर पंचायत कार्यालय में लिखित रूप से जलनिकासी के लिए नाली व मार्ग का निर्माण करवाए जाने का प्रार्थना पत्र दे चुके है परन्तु अभी तक नगर पंचायत द्वारा कोई कार्य नही कराया गया। लोग आए दिन गिरकर चुटहिल हो रहे है। प्रशासन के कान में जूं तक नही रेग रही है।
इसी तरह रानीगंज गांव में मेन तिराहे पर ही बड़े बड़े गडढे होने के कारण प्राय: बारिश के दिनों में जलभराव हो जाया करता है। शनिवार को हुई तेज बारिश से पूरा तिराहा जलमग्न रहा। जिससे आवागमन में ग्रामीणों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। पैराडाइस मिनी प्ले स्कूल के प्रबंधक रोहित केसरवानी, प्रमोद तिवारी, छोटू,गोलू, राजन आदि ने बताया कि सालों से इस सड़क का यही हाल है। जगह जगह बड़े बड़े गड्ढे है। जिसमें गिरकर आए दिन लोग गंभीर रूप से घायल हो जाया करते है। नागरिकों ने जिलाधिकारी से खराब सड़क को बनवाए जाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.