रिश्ते को सफल बनाने में वो बातें जो हमेशा बनती हैं रोढ़ा, टूट जाते हैं कपल्स

फैशन एंड लाइफस्टाइल सोशल

इस बात में कोई दोराय नहीं है कि एक रिश्ते को संवारने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है। छोटी से छोटी बातों का ध्यान रखना पड़ता है। अगर आप सोचते हैं कि एक बार आपको पार्टनर मिल गया और अब राह बहुत आसान है, तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। प्यार का मिलना ही काफी नहीं होता, बल्कि अपने रिश्ते को सफल बनाने के लिए उन बातों को भी सीखना पड़ता है जो आपके रिलेशनशिप को हेल्दी बनाए रखती हैं।

प्यारभरे रिश्ते को निभाने के लिए कई बीरिकियों को समझना पड़ता है, पार्टनर के साथ रहते हुए किन बातों के कारण आपका रिलेशनशिप खराब हो सकता है इसे जान लें।

किसी भी रिश्ते को चलाने के लिए उसमें सच्चाई और विश्वास का होना बहुत जरूरी होता है। लेकिन जब अगर आप अपने पार्टनर से झूठ बोलने लगते हैं, तो आपके रिलेशनशिप की नींव कमजोर पड़ने लगती है। कपल्स के बीच प्यार औऱ विश्वास का होना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है, मगर जब आप गलत रास्ते को अपना लेते हैं और पार्टनर से लगातार झूठ बोलते हैं तो इसका अंत बेहद ही बुरा होता है।

अगर आपको अपने करियर में किसी भी तरह की मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है, तो इसे पार्टनर के साथ डिस्कस करें। हो सकता है कि वह आपको कोई रास्ता बता पाएं। लेकिन जब आप जॉब या बिजनेस को लेकर ऐसे रास्तों की तरफ बढ़ने लगते हैं, जो गलत होते हैं तो सच सामने आने के बाद इसका सीधा असर आपके रिश्ते पर पड़ता है। जिसका सुधार आप जीवनभर नहीं कर पाते, इसलिए बेहतर यही है कि परिस्थिति कैसी भी हो लेकिन साथी के साथ बैठकर इस बारे में आराम से बात जरूर करें।

एक रिलेशनशिप में पार्नटर्स के बीच जब तक प्यार रहता है, तब तक बात बहुत मीठे तरह से देखने को मिलती है। लेकिन जब चीजें बिगड़ने लगती हैं, तो शब्दों की गरिमा तार-तार होने में वक्त नहीं लगता। हालांकि अगर आप अपने पार्टनर का सम्मान नहीं कर रहे हैं, तो उस रिश्ते की उम्र ज्यादा लंबी नहीं रह जाती। जिसका कारण यह है कि एक वक्त ऐसा आता है कपल्स के बीच सम्मान खत्म हो जाता है और वह एक-दूसरे का मुंह तक नहीं देखना चाहते।

कई बार लोग रिलेशनशिप मे आने के बाद पार्टनर को अपना गुलाम मान बैठते हैं। अगर आप सोचते हैं कि एक रिश्ते में सब कुछ आपके मुताबिक होगा, तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। अपने पार्टनर के अस्तित्व को भी आपको उतना ही महत्व देना होता है, खुद को रिश्ते का मालिक समझना बिल्कुल सही नहीं है। आपको यह बात समझनी होगी कि साथी की अपनी एक जिंदगी होती है। रिश्ते में होने का मतलब यह नहीं कि आपके पास उसे कंट्रोल करने का अधिकार है। उनकी अपनी एक पर्सनालिटी है, वह खुद अपनी लाइफ को निर्णय लेने का पूरा अधिकार रखते हैं।

जहां रिश्ते में ईगो की जगह बहुत बड़ी रहती है, वहां तनाव का पनपना लाजिमी है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि कपल्स के बीच अगर अहंकार की भावना रहती है, तो वे लड़ाई-झगड़ों को खत्म करने के बजाय एक-दूसरे का इंतजार करते रहते हैं। छोटी-मोटी बहस हर कपल्स के बीच में होती है, लेकिन अगर उसमें एक सॉरी बोल दिया जाता है तो अपने आप वो खत्म हो जाती है। अगर आप भी ईगो को छोड़कर अपनी गलती होने पर सॉरी बोलना सीख लेंगे, तो अपने रिश्ते में हैप्पी मोमेंट्स ज्यादा क्रिएट कर पाएंगे। वरना ईगो के कारण रिश्तो को टूटने में देर नहीं लगती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.