देश का आम बजट पेश : लोगों को क्या मिला खास, किसकी क्या थी आस, कौन हुआ निराश

नई दिल्ली न्यूज़ भारत

आज देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में आम बजट पेश किया। देश का आम आदमी इस आम बजट से काफी उम्मीद लगाए बैठा था हालांकि इस आम बजट में आम आदमी को खुश करने की भरपूर कोशिश की गई है।

हर वर्ग के लिए कुछ न कुछ घोषणाएं की गई है। देश के किसानो के लिए जहां एमएसपी का लाभ सीधे खाते में पहुँचाने की बात कही गई है।

वही ऑर्गनिक खेती और फलों के खेती पर ज़ोर देने की भी बात कही गई है ताकि किसानो की आर्थिक स्थिति अच्छी हो.ये तो हुई किसानो की बात इसके आलावा सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा जो इस वक्त देश में चल रहा है वो रोजगार का है बजट में इसको लेकर भी घोषणा की गई है।60 लाख रोजगार सृजन की बात भी बजट में हुई है हलाकि टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं होने से नौकरीपेशा लोगो को निराशा ज़रूर हुई है।

इस बजट भाषण के आने के बाद प्रतिक्रियाओं का दौर भी शुरू हो गया। बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार ने इस बजट को स्वागत योग्य बताया है वही डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने बजट में अगले 25 साल के विजन दिखने की बात कही है दूसरी और आरजेडी ने कहा की बजट में बिहार के लिए कुछ खास नहीं है बिहार की अनदेखी की गई है। इसलिए जदयू को बीजेपी का साथ छोड़ देना चाहिए।इन सबसे देश के प्रधानमंत्री ने इस बजट की सराहना की और विकास की नई विश्वास वाला बजट बताया।

आम बजट में रेलवे को लेकर महत्वपूर्ण एलान किया गया जिसके तहत अगले तीन सालों में 400 वन्दे भारत ट्रेन चलने का एलान किया गया। इसके अलावा कनेक्टिविटी को लेकर 25 हज़ार किलोमीटर हाईवे निर्माण की भी बात कही गई जो निश्चित तौर पर विकास की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है इस बजट में एक बेहद ख़ास बात की घोषणा हुई है 50 सालों के लिए राज्यों को 1 लाख करोड़ का बयाजमुक्त ऋण जिसकी हर तरफ सराहना हो रही है।

कुल मिलकर मौजूदा समय की बात करे तो 5 राज्यों में चुनाव भी है और देश के युवा और किसान सबसे ज़्यादा उत्सुक और आशान्वित भी रहते है की उनके लिए सरकार क्या एलान करती है। ऐसे में आज के बजट में शेरोन और ग्रामीण इलाको के विकास के साथ साथ युवाओं और किसानो को लुभाने की पूरी कोशिश की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.