तानाशाही: किम जोंग उन ने ‘के-पॉप’ को बताया कैंसर, कहा- सुनते पकड़े गए तो कैद में काटने होंगे 15 साल

न्यूज़ भारत विदेश

उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन इन दिनों बगावत के डर से बेहद परेशान नजर आ रहे हैं। पड़ोसी देश दक्षिणी कोरिया के पॉप संगीत ने उनकी रातों की नींद और दिन सुकून छीन लिया है। इससे परेशान होकर तानाशाह किम जोंग उन ने के-पॉप के दीवानों को खुलेआम धमकी दी है। उन्होंने कहा कि के-पॉप खतरनाक एक कैंसर की तरह है। उत्तर कोरिया में अगर कोई इसे सुनते हुए पकड़ा गया या दक्षिणी कोरिया के ड्रामा को देखा तो उसे लेबर कैंप में 15 साल की कैद होगी। 

किम जोंग उन ने के-पॉप संगीत को ‘खतरनाक कैंसर’ बता दिया। तानाशाह ने कहा कि के-पॉप एक खतरनाक कैंसर है, जो उत्तरी कोरिया के युवाओं को बर्बाद कर रहा है। उनके हावभाव, रहन-सहन, कपड़े और हेयरस्टाइल सब कुछ बदल रहे हैं। अगर ऐसा ही चलता रहा तो उत्तरी कोरिया एक गीली दीवार की तरह ढह जाएगा।

‘के-पॉप’ सुनने पर 15 साल की कैद
किम जोंग-उन ने अपने फरमान में कहा कि दक्षिण कोरिया का संगीत, टीवी सीरियल्स और फिल्में हमारे देश के युवओं की पोशाक, हेयर स्टाइल, भाषा और व्यवहार को भ्रष्ट कर रहीं हैं। दिसंबर में ही इससे संबंधित एक कानून लाया गया था, जिसमें दक्षिण कोरिया के किसी भी मनोरंजन को देखने पर लेबर कैंप में 15 साल की कैद की सजा हो सकती है। पहले यह अधिकतम सजा केवल 5 साल की थी। इतना ही नहीं, दक्षिणी कोरिया से जुड़ी मनोरंजन सामग्री की पेन ड्राइव्स की तस्करी में शामिल लोगों को पकड़े जाने पर मौत की सजा देने का प्रावधान है।

किम जोंग उन ने ‘के-पॉप’ को बताया कैंसर, कहा- सुनते पकड़े गए तो कैद में काटने होंगे 15 साल

Leave a Reply

Your email address will not be published.