डेफ-एक्सपो 2022: 18 से 22 अक्टूबर तक रक्षा उपकरणों का मेला, रक्षा निर्यात 5 अरब डॉलर करने का लक्ष्य

नई दिल्ली न्यूज़ भारत




भारतीय रक्षा क्षेत्र वृहद और संभावनाओं से भरा हुआ है। देश की विशाल सीमाओं की सुरक्षा और इसकी लगातार निगरानी के लिए भारी मात्रा में संसाधनों की जरूरत होती है। केंद्र सरकार इसकी उपयोगिता को समझते हुए रक्षा क्षेत्र आत्मनिर्भरता के लिए लगातार प्रयासरत है। इन्ही प्रयासों के अंतर्गत डिफेंस एक्सपो का आयोजन देश के रक्षा क्षेत्र को आत्मनिर्भरता के साथ-साथ मजबूती भी दे रहा है। इस कड़ी में भू-आधारित, नौसेनिक और होमलैंड सुरक्षा प्रणालियों पर भारत की प्रमुख प्रदर्शनी डेफएक्सपो का 12वां संस्करण दिनांक 18-22 अक्टूबर, 2022 के बीच गुजरात के गांधीनगर में आयोजित किया जाएगा।



डेफ-एक्सपो का क्यों होता है आयोजन

डेफएक्सपो में प्रतिभागियों को अपने उपकरणों और प्लेटफार्मों को प्रदर्शित करने का अवसर मिलता है और व्यावसायिक साझेदारी बनाने के लिए भारतीय रक्षा उद्योग के विस्तार की ताकत और क्षमताओं का पता लगाने में भी वे सक्षम होते है। यह आयोजन निवेश को बढ़ावा देने, विनिर्माण क्षमताओं का विस्तार करने एवं प्रौद्योगिकी विकास के रास्ते खोजने में मदद करता है।



डेफ-एक्सपो 2022 की थीम

भारत अपना ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मना रहा है, डेफएक्सपो 2022 प्रदर्शनी अपने थीम ‘पाथ टू प्राइड’ के साथ राष्ट्रवादी गौरव का आह्वान करती है व एक सक्षम स्वदेशी रक्षा उद्योग की स्थापना के माध्यम से नागरिकों को राष्ट्र निर्माण में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करती है। रक्षा मंत्रालय ने हाल के वर्षों में कई नीतिगत सुधार किए हैं, जैसे रक्षा क्षेत्र 74 प्रतिशत प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की अनुमति, रक्षा उत्कृष्टता के लिए नवाचार (आई-डेक्स), डिफेंस इनोवेशन स्टार्ट-अप चैलेंज, डेफ कनेक्ट, रक्षा में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आदि। रक्षा निर्माण में सुधार से भारतीय रक्षा निर्माताओं की अधिक रुचि पैदा हो रही है और इसलिए यह अनुमान है कि डेफएक्सपो-2022 भारतीय कंपनियों की सक्रिय भागीदारी को प्रोत्साहन देगा।



पांच दिवसीय कार्यक्रम

पांच दिवसीय कार्यक्रम में तीन व्यावसायिक दिनों के बाद दो दिन आम जनता के लिए होंगे। इन सभी पांच दिनों के दौरान साबरमती रिवर फ्रंट में सशस्त्र बलों, डीपीएसयू और उद्योग जगत के उपकरणों एवं कौशल सेट का प्रदर्शन सभी स्तरों पर सक्रिय भागीदारी और समेकित प्रयासों के माध्यम से किया जाएगा। डेफएक्सपो 2022 का आयोजन हेलीपैड प्रदर्शनी केंद्र में एक लाख वर्ग मीटर से अधिक के क्षेत्र में तीन-स्थलों के प्रारूप में किया जाएगा। व्यापार से जुड़ी जरूरतों के लिए आने वाले आगंतुक व्यावसायिक दिनों यानि 18, 19 और 20 अक्टूबर के दौरान शो में आने के लिए वेबसाइट पर अपने टिकट खरीद सकेंगे और 21 तथा 22 अक्टूबर को आम जनता के लिए नि:शुल्क प्रवेश की सुविधा की जाएगी।



मार्च में होना था आयोजन

डिफेंस एक्‍सपो 2022 का आयोजन इससे पहले मार्च में होना था, लेकिन प्रतिभागियों द्वारा अनुभव की जा रही लॉजिस्टिक्‍स समस्याओं के कारण स्थगित कर दिया गया था। नई तारीखों के ऐलान के साथ ही एक्सपो में भाग लेने वाले प्रतिभागियों के बीच उत्साह भर गया है। प्रतिभागियों की एक बड़ी संख्या ने पहला आयोजन स्थगित होने के बाद अब इस आयोजन में अपनी उपस्थिति बरकरार रखी है, उन्हें उनके स्थान का पुन: आवंटन किया जाएगा। नए प्रदर्शकों के लिए जगह की बुकिंग दिनांक 15 अगस्त, 2022 से शुरू होगी।



2025 तक 5 अरब डॉलर रक्षा निर्यात का लक्ष्य

डेफ-एक्सपो 2022 रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता हासिल करने और 2025 तक 5 अरब डॉलर का निर्यात हासिल करने के पीएम मोदी के दृष्टिकोण के अनुरूप है। भारत ने सफलतापूर्वक खुद को एक उभरते रक्षा विनिर्माण केंद्र के रूप में स्थापित किया है, जिसमें हाल के वर्षों में भारतीय कंपनियों को कई अंतरराष्ट्रीय ऑर्डर मिले हैं। भारतीय रक्षा उद्योग डेफएक्सपो-2022 का बेसब्री से इंतजार कर रहा है, जो रक्षा क्षेत्र में एशिया का सबसे बड़ा आयोजन है। डेफ-एक्सपो 2022 की विस्तृत सूचना www.defexpo.gov.in पर उपलब्ध है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.