गुड़ का अधिक सेवन कर सकता है मुसीबत खड़ी

स्वास्थ्य और सौन्दर्य

गुड़ का नाम सुनते ही जैसे मुंह में मिठास घुल जाती है। गुड़ ना केवल खाने में बेहद स्वादिष्ट है, बल्कि यह बहुत से गुणों और पोषक तत्वों का खजाना भी है। यही कारण भी है कि आज के समय में लोग चीनी की बजाय गुड़ का सेवन करने लगे हैं। इसके अलावा गुड़ के अंदर औषधीय गुण भी होते हैं।

पेट की समस्या – जी हां गुड़ पेट की समस्याओं से निपटने के एक बेहद आसान और फायदेमंद उपाय है। यह पेट में गैस बनना और पाचन क्रिया से जुड़ी अन्य समस्याओं को हल करने में बेहद लाभदायक है। खाना खाने के बाद गुड़ का सेवन पाचन में सहयोग करता है।

गुड़ का उपयोग बहुत सी आयुर्वेदिक दवा बनाने के लिए भी किया जाता है। लेकिन कहा जाता है ना कि अति हर चीज की बुरी होती है। ऐसे में अगर आप भी जरूरत से ज्यादा गुड़ का सेवन करते हैं तो यह आपको कई स्वास्थ्य समस्याओं में डाल सकता है। आइए जानते हैं आखिर क्यों आपको गुड़ का सेवन अधिक नहीं करना चाहिए।

सर्दी होने पर – सर्दी के दिनों में या सर्दी होने पर गुड़ का प्रयोग आपके लिए अमृत के समान होगा। इसकी तासीर गर्म होने के कारण यह सर्दी, जुकाम और खास तौर से कफ से आपको राहत देने में मदद करेगा। इसके लिए दूध या चाय में गुड़ का प्रयोग किया जा सकता है, और आप इसका काढ़ा भी बनाकर ले सकते हैं।

अगर आप अपना वजन घटाने की सोच रहे हैं या किसी वेट लॉस डाइट का पालन कर रहे हैं, तो गुड़ की वजह से आपका लक्ष्य प्रभावित हो सकता है। आपको बता दें कि गुड़ के अंदर कार्ब्स और शुगर होती है। यह दोनों ही तत्व वजन बढ़ने की वजह बनते हैं। ऐसे में अगर आप वजन घटाना चाहते हैं तो केवल बेहद थोड़ी मात्रा में ही गुड़ का सेवन करें। इससे आपका वजन नहीं बढ़ेगा।

गुड़ का सेवन यूं तो सर्दियों के मौसम में बहुत ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। लेकिन इसके फायदे आपको तभी होते हैं जब आप इसका सेवन कम मात्रा में करेंगे। अगर आप गुड़ का अधिक सेवन करते हैं, तो इससे आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है।

अगर आप गुड़ का सेवन करते हैं तो इससे आपको सूजन की समस्या पैदा हो सकती है। आपको बता दें कि गुड़ में शुगर की मात्रा अधिक होती है, जिसकी वजह से सूजन की समस्या पैदा हो सकती है। वहीं अगर आपको अर्थराइटिस जैसी समस्या है तो आपको गुड़ से पूरी तरह दूर रहना चाहिए।

यही नहीं अगर आप गर्मियों के दौरान गुड़ का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं तो इससे आपको पाचन से जुड़ी समस्या और नाक से खून आने की दिक्कत भी हो सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि गुड़ की तासीर गर्म होती है। इसलिए गुड़ का सेवन बेहद कम मात्रा में ही करना सही है।

गुड़ को अदरक के साथ गर्म कर, इसे गुनगुना खाने से गले की खराश और जलन में राहत मिलती है। इससे आवाज भी काफी बेहतर हो जाती है।

क्या आप जानते हैं कि गुड़ के सेवन से कब्ज की समस्या पैदा हो सकती है। हालांकि ऐसा भी कहा जाता है कि कब्ज की समस्या गुड़ की वजह से तभी होती है जब आप ताजा गुड़ खाते हो। यही नहीं कई लोगों को गुड़ से एलर्जी भी होती है। जिसकी वजह से उन्हें दस्त, थकान, बुखार,चकत्ते बनना, सिर दर्द और जी घबराने लगता है। अगर आपको गुड़ के सेवन से ऐसी कोई दिक्कत होती है तो आप इसे खान तुरंत बंद कर दें।

जोड़ों में दर्द की समस्या होने पर गुड़ का अदरक के साथ प्रयोग काफी लाभदायक सिद्ध होता है। प्रतिदिन गुड़ के एक टुकड़े के साथ अदरक खाने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है।

ऐसे बहुत लोग हैं जो शुगर की बजाय गुड़ का सेवन करना पसंद करते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि गुड़ी भी मीठा ही होती है। ऐसे में अगर आप गुड़ का अधिक सेवन करते हैं तो इसकी वजह से आपका ब्लड शुगर लेवल अधिक बढ़ सकता है।

आप शायद इस बात को ना जानते हों कि गुड़ की तासीर बेहद गर्म होती है। इसलिए गर्मियों के मौसम में इसका सेवन केवल तय मात्रा में ही करें। क्योंकि अगर आप गुड़ का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं तो इसकी वजह से आपकी नाक से खून आने लगता है।

ध्यान रहे कि गुड़ के अंदर बहुत आसानी से रसायनों को मिला दिया जाता है जो आपकी सेहत को अधिक नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए अच्छी क्वालिटी का ही गुड़ खरीदें और इसका उचित मात्रा में ही सेवन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.