कोरोना वायरस: कोरोना के मरीजों को प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती होने पर कितना आता है खर्चा?

Coronavirus COVID-19 भारत

आइए एक नजर डालते हैं अलग-अलग शहरों में कोरोना (Coronavirus के मरीजों पर होने वाले औसत खर्चे पर…
नई दिल्ली. देशभर में कोरोना (Coronavirus) के मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. भारत में मरीजों की संख्या डेढ़ लाख को पार कर गई है. राहत की बात ये है कि सारे पॉजिटिव मरीजों को हॉस्पिटल में भर्ती होने की जरूरत नहीं पड़ती है. पिछले हफ्ते के आंकड़ों के मुताबिक, सिर्फ 15 फीसदी मरीजों को हॉस्पिटल में एडमिट होने की जरूरत पड़ रही थी. ऐसे में सवाल उठता है कि अगर किसी को हॉस्पिटल में भर्ती कराने की नौबत आती है तो फिर कितना खर्चा आएगा.
अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस ने हॉस्पिटल में भर्ती 6 अलग-अलग मरीजों के खर्चों का आंकलन किया. ये सारे मरीज़ दिल्ली, मुंबई और कोलकाता के प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती थे. हॉस्पिटल में 6 दिन तक रहने वालों को करीब 2.6 लाख का खर्चा आया. जबकि एक महीने तक हॉस्पिटल में रहने वाले मरीजों को करीब 16.14 लाख रुपये खर्च करने पड़े. मेडिकल इंश्योरेंस होने के बाद भी मरीजों को अपनी जेब से करीब 60 हज़ार से 1.38 लाख रुपये तक खर्च करने पड़े.


आइए एक नजर डालते हैं अलग-अलग शहरों में कोरोना के मरीजों पर होने वाले औसत खर्चे पर…

दिल्ली में एक दिन में डॉक्टर की कंसल्टेशन फीस 3800-7700 रुपये है. कोलकाता और मुंबई में ये खर्चा 2000-3000 रुपये के बीच आता है.
अगर मरीज ICU में भर्ती नहीं है तो फिर एक दिन का खर्चा 14000 से 32000 के बीच आता है. यानी 10 दिनों का ये खर्चा 3.2 लाख रुपये तक आता है. इसमें सबसे ज्यादा खर्च रूम रेंट का आता है.
अगर मरीज की हालत गंभीर नहीं है तो फिर एक दिन में रूम का खर्चा 3200 से लेकर 16000 रुपये (डिलक्स रूम) आता है. यानी 10 दिनों में मरीज को औसत 1.5 लाख रुपये देने होते हैं.
हर दिन 3-5 PPE किट का इस्तेमाल किया जाता है जिसका खर्चा करीब 700-1100 रुपये तक आता है.
ICU में रूम का खर्चा 7000-16000 के बीच रहता है. वेंटिलेंटर का इस्तेमाल होने पर हर दिन 1000-2500 रुपये देने होते हैं. एक दिन में ABG का खर्चा 1000-5500 रुपये के बीच आता है. इस प्रक्रिया के तहत बल्ड में ऑक्सीजन दी जाती है.
गंभीर हालत में रहने वाले मरीजों को 2000-5000 रूपये तक का अलग खर्चा आता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.