कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर भारत के लोगों के लिए अच्छी खबर है

COVID-19 न्यूज़

कोरोना वायरस की वैक्सीन को लेकर भारत के लोगों के लिए अच्छी खबर है. रूस वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक भारत को देने के लिए तैयार हो गया है. रूस की Sputnik-V वैक्सीन तैयार करने वाले रशियन डायरेक्ट इनवेस्टमेंट फंड (RDIF) और भारत की दवा कंपनी डॉ. रेड्डीज लैब के बीच इस वैक्सीन को लेकर समझौता हुआ है.

Sputnik-V वैक्सीन के सफल होने का ऐलान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 11 अगस्त को किया था. हालांकि, तब तक सिर्फ फेज-1 और फेज-2 ट्रायल ही पूरे हुए थे. 26 अगस्त को वैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल शुरू किा गया जो फिलहाल जारी है. फेज-3 ट्रायल में करीब 40 हजार लोग हिस्सा ले रहे हैं.

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, रशियन डायरेक्ट इनवेस्टमेंट फंड ने भारतीय कंपनी के साथ कुल 30 करोड़ वैक्सीन की खुराक के उत्पादन का करार किया है. डॉ. रेड्डीज लैब अब भारत में इस वैक्सीन का फेज-3 ट्रायल शुरू करेगी.

अगर वैक्सीन के फेज-3 ट्रायल के रिजल्ट अच्छे रहते हैं तो नवंबर तक वैक्सीन भारत में उपलब्ध हो सकती है. बता दें कि कोरोना वायरस वैक्सीन को लाइसेंस देने वाला रूस दुनिया का पहला देश है. हालांकि, बिना फेज-3 ट्रायल के वैक्सीन को मंजूरी देने की वजह से दुनिया के कई एक्सपर्ट्स ने रूस की आलोचना भी की थी.

भारत में रूसी वैक्सीन की कीमत कितनी होगी, फिलहाल इसका फैसला नहीं किया गया है. लेकिन RDIF ने कुछ वक्त पहले कहा था कि उसका उद्देश्य वैक्सीन से लाभ कमाना नहीं है. RDIF ने पहले ही कजाकिस्तान, ब्राजील और मैक्सिको के साथ वैक्सीन की सप्लाई का समझौता है. सऊदी केमिकल कंपनी के साथ भी RDIF ने एक करार किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.