अंतरराष्ट्रीय योग दिवस: पीएम मोदी हजारों लोगों के साथ करेंगे योग, Guardian Ring होगा अनूठा कार्यक्रम

नई दिल्ली न्यूज़ भारत



21 जून को 8वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। ‘करो योग, रहो निरोग’ जैसी कहावत तो काफी पुरानी है। आज के समय में किसी के 100 साल की उम्र तक जीना काफी असंभव लगता है। लेकिन ये संभव है, वो भी योग के जरिए। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में शरीर को स्वस्थ और ऊर्जावान बनाए रखने के लिए योग अत्यंत आवश्यक है। योग के महत्व को देश ने ही नहीं बल्कि सारी दुनिया ने भी माना है। इसलिए सारी दुनिया 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मनाती है। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विशेष प्रयास से हुई। इस बार हम आठवां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाएंगे।

पीएम मोदी मैसूर में हजारों लोगों के साथ करेंगे योग

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पीएम मोदी मैसूर पैलेस ग्राउंड, मैसूर में एक सामूहिक योग प्रदर्शन में हजारों प्रतिभागियों के साथ शामिल होंगे। आजादी के अमृत महोत्सव को 8 वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के समारोह के साथ एकीकृत करते हुए, मैसूर में पीएम द्वारा योग प्रदर्शन के साथ-साथ 75 केंद्रीय मंत्रियों के नेतृत्व में देश भर में 75 प्रतिष्ठित स्थानों पर सामूहिक योग प्रदर्शन भी आयोजित किए जाएंगे। योग प्रदर्शन विभिन्न शैक्षिक, सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक, धार्मिक, कॉरपोरेट और अन्य नागरिक समाज संगठनों द्वारा भी आयोजित किए जाएंगे और इसमें देश भर के करोड़ों लोग शामिल होंगे।

योग दिवस को लेकर पीएम मोदी ने सोमवार को ट्वीट किया- “कल यानी 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाएगा। इस बार यह आयोजन ‘मानवता के लिए योग’ की थीम के तहत होगा। आइए, हम सब मिलकर इसे सफल बनाएं एवं योग की लोकप्रियता को और बढ़ाएं।”उल्लेखनीय है कि देशभर में अलग-अलग स्थानों पर योग दिवस से जुड़े कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। आजादी के ‘अमृत महोत्सव’ को ध्यान में रखते हुए देश के 75 प्रमुख स्थानों पर भी ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ का आयोजन होगा। 21 जून को प्रधानमंत्री मोदी मैसूर में सामूहिक योग कार्यक्रम में हजारों प्रतिभागियों के साथ शामिल होंगे।

79 देशों और संयुक्त राष्ट्र संगठनों में होगा कार्यक्रम

मैसूर में पीएम का योग कार्यक्रम इससे जुड़े ‘गार्जियन योग रिंग’ कार्यक्रम का भी हिस्सा है, जो 79 देशों और संयुक्त राष्ट्र संगठनों के साथ-साथ विदेशों में भारतीय मिशनों के बीच एक सहयोगी अभ्यास है और यह योग की एकीकरण शक्ति को राष्ट्रीय सीमाओं से परे ले जाता है।

Guardian Ring का अनूठा कार्यक्रम

दरअसल, जैसा कि सूर्य स्पष्ट रूप से दुनिया भर में पूर्व से पश्चिम की ओर अपने मार्ग पर अग्रसर होता है उसी प्रकार से सामूहिक योग प्रदर्शन में भाग लेने वाले देशों को यदि पृथ्वी पर किसी एक बिंदु से देखें, तो वे लगभग अग्रानुक्रम में एक के बाद एक होते हुए ऐसे ही प्रतीत होंगे और इस प्रकार यह ‘एक सूर्य, एक पृथ्वी’ की अवधारणा को रेखांकित करते हैं।

यानि इस बार योग दिवस पर guardian Ring – एक बड़ा ही अनूठा कार्यक्रम होगा। इसमें Movement of Sun को celebrate किया जाएगा, यानि, सूरज जैसे-जैसे यात्रा करेगा, धरती के अलग-अलग हिस्सों से, हम, योग के जरिये उसका स्वागत करेंगे। अलग-अलग देशों में भारतीय मिशन वहां के लोकल टाइम के मुताबिक सूर्योदय के समय योग कार्यक्रम आयोजित करेंगे। एक देश के बाद दूसरे देश से कार्यक्रम शुरू होगा। पूरब से पश्चिम तक निरंतर यात्रा चलती रहेगी, फिर ऐसे ही ये आगे बढ़ता रहेगा। इन कार्यक्रमों की स्ट्रीमिंग भी इसी तरह एक के बाद एक जुड़ती जायेगी, यानि ये, एक तरह का रिले योगा स्ट्रीमिंग इवेंट होगा।

फिजी से सैन फ्रांसिस्को तक का होगा प्रसारण

डीडी इंडिया पर 21 जून, 2022 को प्रातः 3 बजे से भारतीय समयानुसार (फिजी से प्रसारण) से रात्रि 10 बजे तक (सैन फ्रांसिस्को, यूएसए से प्रसारण) तक किया जाएगा। कार्यक्रम के हिस्से के रूप में, मैसूर में प्रधानमंत्री का कार्यक्रम होगा और डीडी इंडिया पर भारतीय समयानुसार प्रातः छह बजकर 30 मिनट से इसका सीधा प्रसारण किया जाएगा।

योग दिवस की थीम

2015 से, अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (आईडीवाई) हर वर्ष 21 जून को दुनिया भर में मनाया जाता है। इस वर्ष के योग दिवस का विषय “मानवता के लिए योग” है। यह विषय दर्शाता है कि कैसे योग ने कोविड महामारी के दौरान पीड़ा को कम करने में मानवता की सेवा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.