अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी रीवा आएंगे, खेल संगठनों का होगा सम्मान,शांति एवं सद्भावना महोत्सव-2022

खेल न्यूज़ भारत मनोरंजन

*शांति एवं सद्भावना महोत्सव-2022*

*स्वच्छता एवं स्वस्थ को समर्पित होगा 36 वा महोत्सव*

*अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी रीवा आएंगे, खेल संगठनों का होगा सम्मान*

रीवा। प्रत्येक नए वर्ष के प्रथम दिवस सूर्योदय के साथ ही देश दुनिया को शांति एवं सद्भाव का संदेश देने वाले रीवा नगर में एक बार फिर आगामी 1 जनवरी को प्रातः 7 बजे नगर के हजारों शांति धावक रंग बिरंगे परिधानों में नगर के प्रमुख मार्गों पर कदमताल करते हुए विश्व को शांति का संदेश देंगे। “स्वच्छता एवं स्वास्थ्य ” को समर्पित 36 वे महोत्सव में एक बार फिर अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी रीवा आएंगे। ठाकुर रणमत सिंह महाविद्यालय रीवा के प्रांगण में होने वाले भव्य समारोह में जिले के विभिन्न खेल संगठनों के साथ अनवरत भागीदारी करने वाले सामाजिक संगठनों का सम्मान किया जाएगा।
शांति एवं सद्भावना महोत्सव आयोजन समिति के संयोजक एवं रिएक्ट संस्था के अध्यक्ष डॉ मुकेश येंगल ने बताया कि जिला प्रशासन एवं नगर पालिक निगम रीवा के संयुक्त तत्वावधान में सन 1987 से यह गरिमामय आयोजन किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि इसमें हर वर्ष राष्ट्रीय स्तर की शख्सियत शामिल होती रही है। सन 2020 में कारगिल युद्ध के 4 कोबरा कमांडो रीवा आये थे, तथा गत वर्ष 2021 में लिम्का बुक रिकॉर्डधारी एवं अर्जुन एवार्ड से से सम्मानित अंतरराष्ट्रीय शटलर रीवा आये थे। आगामी 2022 के आयोजन में भी अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी रीवा आ रहें हैं।
आयोजन समिति की ओर से डॉ मुकेश येंगल, जगजीवनलाल तिवारी, चंदू खुशलानी, जयदीप सिंह, डॉ दिलीप शुक्ला, अशोक गहरवार, किसान सुब्रत, राकेश येंगल, अमित पाण्डेय, दीपक शर्मा, सैय्यद जैदी, यूथ होस्टल के शाहिद परवेज़, राजमणि तिवारी भोला, कोच रमेश तिवारी, फुटबॉल एसोसिएशन के कासिम खान, चाइल्ड राइट्स से साबिर असलम, आँचल जायसवाल, रुबीना मंसूरी, राज्य आनन्द संस्थान की रीवा इकाई के सौरभ तिवारी, ललित मोहन, विनायक दत्त शर्मा, टेबल टेनिस एसोसिएशन से असद खान, विनोद तिवारी, डायनामिक से विवेक सिंह, क्षत्राणी समाज की सुधा सिंह बघेल, सहित अन्य सदस्यों ने समस्त खेल संगठनों, सामाजिक संगठनों सहित नगरवासियों से आह्वान किया कि वे 1 जनवरी को प्रातः टीआरएस कालेज पहुंचकर सक्रिय सहभागिता निभाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.